शारीरिक देखभाल

  • शारीरिक देखभाल इकाई जनवरी 2018 में खोली गई थी I आश्रमों और समुदाय में रहने वाली माताओं और साधुओ का इलाज एक प्रशिक्षित फिजियोथेरेपी डॉक्टर और सहायक द्वारा उचित उपकरण के साथ नियमित रूप किया जाता है। अब तक 1501 सत्रों में 320 रोगियों का इलाज किया गया है। डॉक्टर के पास एक भली प्रकार से परिभाषित अनुसूची है जिसका पालन किया जाता है और सभी संबंधित चिकित्सा आवश्यकता को कवर किया जाता है।

  • हमारे आश्रमों में हर माँ को हर दिन 15 मिनट की मालिश मिलती है। इससे उनकी शारीरिक सुख में मदद मिलती है। हमने पक्षाघात से पीड़ित माताओं में जबरदस्त सुधार देखा है।